Congress Bharat Jodo Nyay Yatra: Jairam Ramesh Alleges Assault On His Automotive By Unruly BJP Crowd In Assam – न्याय यात्रा : जयराम रमेश ने असम में अपनी कार पर BJP की बेकाबू भीड़ द्वारा हमले का लगाया आरोप

195

जयराम रमेश ने कहा कि जुमुगुरीहाट में मेरे वाहन पर भाजपा की बेकाबू भीड़ ने हमला किया.

गुवाहाटी :

असम के सोनितपुर जिले में रविवार को कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश (Jairam Ramesh) के वाहन पर कथित तौर पर हमला किया गया और पार्टी की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ के साथ जा रहे मीडियाकर्मियों के साथ उपद्रवियों ने ‘‘हाथापाई” की. जयराम रमेश ने खुद एक एक्‍स पोस्‍ट के जरिए इस बारे में जानकारी दी है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी के नेतृत्व वाली यात्रा का असम में चौथा दिन है. यात्रा बिस्वनाथ जिले से सोनितपुर होते हुए नगांव जा रही है.

यह भी पढ़ें

जयराम रमेश ने एक्‍स पर एक पोस्‍ट में लिखा, “कुछ मिनट पहले सोनितपुर के जुमुगुरीहाट में मेरे वाहन पर भाजपा की बेकाबू भीड़ ने हमला किया और विंडशील्ड पर लगे भारत जोड़ो न्याय यात्रा के स्टिकर भी फाड़ दिए. उन्होंने पानी फेंका और BJNY विरोधी नारे लगा, लेकिन हमने संयम बनाए रखा, गुंडों को हाथ हिलाया और तेजी से आगे बढ़ गए. यह निस्संदेह असम के सीएम हिमंंता बिस्‍वा सरमा कर रहे हैं. हम डरे हुए नहीं हैं और संघर्ष करते रहेंगे.”

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) की संचार समन्वयक महिमा सिंह ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘जयराम रमेश और कुछ अन्य की कार जमुगुरीघाट के पास यात्रा के मुख्य काफिले में शामिल होने के लिए जा रही थी, तभी उन पर हमला हुआ.”

कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘हमने पुलिस को सूचित किया और अपर पुलिस अधीक्षक अभी मौके पर हैं.” कांग्रेस नेता ने कहा कि उनके वाहन से ‘न्याय यात्रा’ के स्टिकर हटा दिए गए और हमलावरों ने वाहन पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का झंडा लगाने का प्रयास किया, जिससे पिछला शीशा लगभग टूट गया.” 

कैमरा, बैज और अन्‍य उपकरण छीने : सिंह 

उन्होंने कहा, ‘‘यात्रा को कवर कर रहे एक ब्लॉगर का कैमरा, बैज और अन्य उपकरण छीन लिए गए. पार्टी की सोशल मीडिया टीम के सदस्यों के साथ भी बदसलूकी की गई.”

हमारे लिए भयावह स्थिति पैदा कर दी : सिंह 

 

सिंह ने कहा कि इलाके में भाजपा का एक कार्यक्रम हो रहा था और कुछ मीडियाकर्मी फुटेज दिखाने के लिए अपने वाहनों से उतरे थे. कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘उन्होंने हमारे लिए बहुत भयावह स्थिति पैदा कर दी. उन्होंने ब्लॉगर का कैमरा लौटाने से इनकार कर दिया और दावा किया कि कैमरा छीना नहीं गया था.”

ये भी पढ़ें :

* “असमी संत शंकरदेव की जन्मस्थली पर न जाएं राहुल गांधी” : असम के CM का कांग्रेस नेता से आग्रह

* कांग्रेस शासन में मारे गए लोगों के परिजन असम में न्याय यात्रा का विरोध कर रहे: अमित शाह

* BJP देश को जाति, पंथ, धर्म के नाम पर बांट रही है : राहुल गांधी

Supply hyperlink